अजब गजबमध्य प्रदेश

मंदिर में गोवंश के अवशेष फेंकने वाले आरोपियों का निकाला जुलूस, NSA के तहत कार्रवाई

 

रतलाम/जावरा। रतलाम जिले के जावरा नगर में स्थित जागनाथ मंदिर परिसर में बछड़े का कटा हुआ सिर फेंकने के मामले में पुलिस ने अब तक चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) के तहत कार्रवाई कर उन्हें भेरूगढ़ जेल भेज दिया गया। जेल भेजने के पहले पुलिस ने आरोपियों का जुलूस निकाला और कुछ दूर तक उन्हें पैदल चलाया। जुलूस कहां निकाला गया, यह पुलिस ने नहीं बताया।

पुजारी आरती करने पहुंचे तो दिखे थे अवशेष*

उल्लेखनीय है कि 13 व 14 जून की दरमियानी रात 2 से 3 बजे के बीच अज्ञात व्यक्तियों ने मंदिर परिसर में गोवंश का अवशेष फेंक दिया गया था। तड़के पुजारी गौरव गोस्वामी मंदिर पर आरती के लिए पहुंचे तो गोवंश का अवशेष पड़ा दिखाई दिया था। इसके बाद उन्होंने अन्य लोगों व पुलिस को सूचना दी थी।

*हिंदू संगठनों में रोष*

खबर फैलने पर शुक्रवार सुबह बड़ी संख्या में लोग व हिंदू संगठनों के कार्यकर्ता मंदिर पर पहुंचे थे। घटना को लेकर लोगों में फैल गया था तथा जावरा नगर बंद करा दिया था। इस दौरान एक-दो स्थानों पर पथराव की घटना भी हुई थी तथा तनाव की स्थित बन गई थी। पुलिस ने मोर्चा संभाल कर आंसू गैस के गोले छोड़कर भीड़ को तीतर-बितर किया था।

डीआइजी मनोज कुमार सिंह, एएसपी राकेश खाका, कलेक्टर राजेश बाथम आदि ने जावरा पहुंचकर घटना की जानकारी लेने के साथ ही भारी पुलिस बल तैनात कर स्थिति को नियंत्रित किया था। इस मामले में जावरा शहर थाने पर प्रकरण दर्ज कर पुलिस ने जांच के दौरान सीसीटीवी कैमरों व तकनीकी सहायता से आरोपियों का पता लगाकर 24 वर्षीय सलमान मेव पुत्र मोहम्मद मेव निवासी मेवाती पुरा जावरा व 19 वर्षीय शाकिर कुरैशी पुत्र शाहिद कुरैशी निवासी जेल रोड जावरा को गिरफ्तार किया था।

पूछताछ के बाद देर रात 40 वर्षीय नौशाद कुरैशी पुत्र उर्फ भूरे खां कुरैशी निवासी जूना कबाड़ा जावरा व 25 वर्षीय शाहरुख पुत्र अब्दुल सत्तार निवासी अरब साहब कॉलोनी जावरा को भी गिरफ्तार किया गया। पुलिस सूत्रों के अनुसार सलमान व शाकिर की भूमिका गोवंश फेंकने और नौशाद की वध करने व शाहरुख की अवशेषों को ठिकाने लगाने की थी।

*जांच की जा रही है*

विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज कर 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों के खिलाफ एनएसए की कार्रवाई कर उन्हें भेरूगढ़ जेल उज्जैन भेज दिया गया है। स्थिति पर नजर रखी जाकर मामले की जांच की जा रही है।

*राकेश खाखा, एएसपी*

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *