भोपालमध्य प्रदेश

माना फिल्टर से रायसेन आने वाली पानी की लाइन में महाघोटाला

संजय चौहान की रिपोर्ट

बड़ी खबर –

रायसेन दरगाह से सागर चौराहे तक माना फिल्टर से आने वाली पानी सप्लाई की पाइप लाइन सिफ्टिंग में भारी भ्रष्टाचार हुआ है जिसकी शिकायत नगरपालिका उपयंत्री साहू जी को की गई थी, शिकायत मिलने के बाद नगरपालिका के उपयंत्री साहू जी और पीडब्ल्यूडी विभाग के एसडीओ परमजीत सिंह मौके पर भी पहुंचे थे और काम को रुकवाया भी था परंतु उसके बाद पाइपलाइन सिफ्टिग का काम ज्यों का त्यों फिर चालू कर दिया गया और साहू जी ने पीडब्ल्यूडी को एक सामान्य सा नोटिस भर पकड़ा कर अपने कर्तव्य से इतिश्री कर ली जबकि ठेकेदार द्वारा कहीं-कहीं पर पुरानी पाइप लाइन डाल दी है तो नगरपालिका की मेहरबानी से ठेकेदार ने प्लास्टिक की पाइप लाइन भी डाली है नगर पालिका द्वारा जो वर्क आर्डर दिया गया है उसके हिसाब से पाइपलाइन जिस तरह से डालनी चाहिए थी नहीं डाली गई है नगर पालिका और पीडब्ल्यूडी की मिलीभगत से ठेकेदार द्वारा मनमानी ढंग से काम को अंजाम दिया जा रहा है जबकि नोटिस देने के बाद नगर पालिका उपयंत्री द्वारा किसी भी प्रकार की मॉनिटरिंग नहीं की गई और ना ही कोई कार्रवाई की गई। शिवराज मामा की सरकार है एक तरफ भ्रष्टाचारियों पर कार्रवाई की बात करते हैं दूसरी तरफ रायसेन में भ्रष्टाचार फल फूल रहा है।। जबकि इसी पाइपलाइन में भ्रष्टाचार के मामले को लेकर पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष श्री जमुना सेन ने जोर शोर से आवाज उठाई थी और काम भी रुकवाया था परंतु मामला ज्यों का त्यों है।

वहीं प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर प्रभु राम चौधरी जी रायसेन के विकास में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं अब उन्हीं के अधिकारी कर्मचारी विकास को पलीता लगाते हैं तो फिर क्या कहने। माननीय मंत्री जी एक नजर हो रहे कामों पर भी डालिए।।

 

संजय चौहान रायसेन।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *