मध्य प्रदेश

कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु ग्रामीणों के बीच जागरूकता की अलख जगा रही है स्व-सहायता समूह की महिलाएं

जिला जनसम्पर्क कार्यालय,रायसेन (म0प्र0)

कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु ग्रामीणों के बीच जागरूकता की अलख जगा रही है स्व-सहायता समूह की महिलाएं

कोरोना संक्रमण के रोकने हेतु अब स्व-सहायता समूहों की महिलाएं भी सामाजिक जिम्मेदारी निभाते हुए ग्रामीणों के बीच जागरूकता की अलख जगा रही है। कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव के निर्देशानुसार स्व-सहायता समूहों की महिलाओं को भी कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए ग्रामीणों को जागरूक करने का दायित्व सौंपा गया है। जिले के ग्राम पंचायतों में स्व-सहायता समूहों की महिलाओं द्वारा कोरोना गाइडलाइन का पूरी तरह पालन करते हुए गॉवों में घर-घर जाकर ग्रामीणों को मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करे, समय-समय पर साबुन या सैनेटाइजर से हाथ धोने सहित कोरोना कर्फ्यू का पालन करने की समझाईश दी जा रही है।
सिलवानी विकासखण्ड के ग्राम भानपुर की आजीविका सामुदायिक संगठन चंदनपिपलिया की महिलाओं द्वारा ग्रामीणों को कोरोना महामारी से बचाव हेतु क्या-क्या सावधानी बरतनी है, इसकी जानकारी दी जा रही है। संगठन की अध्यक्ष श्रीमती वंदना केवट द्वारा समूह की महिलाओं के साथ ग्रामीणों को बताया जा रहा है कि सर्दी, खॉसी या बुखार होने पर तुरंत स्वास्थ्य केन्द्र जाकर जॉच कराएं जिससे कि शीघ्र उपचार हो सके। समूह की महिलाओं द्वारा ग्रामीणों को कोविड वैक्सीनेशन की जानकारी देते हुए बताया जा रहा है कि वैक्सीन लगवाने से हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होती है और कोरोना संक्रमण से बचाव होता है। इसके साथ ही समूह की महिलाओं द्वारा ग्रामीणों को मास्क और सैनेटाईजर का वितरण भी किया जा रहा है। संगठन की अध्यक्ष श्रीमती वंदना केवट ने बताया कि अब तक 30 से अधिक गॉवों में 102 समूहों के परिवारों और ग्रामीणों को कोरोना से बचाव के लिए जागरूक किया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *